आपका स्मार्टफोन हैंग हो तो, अपनाएं ये तरीकें

0
316

mobile-phone-websitesआज जमाना स्मार्टफोन का है पर सारी की सारी स्मार्टनेस धरी की धरी रह जाती है जब यह मिनट-मिनट पर हैंग होने लगता है और एप्लीकेशन इंस्टॉल नहीं होतें। दरअसल ऐसा स्मार्टफोन की मेमोरी भरने से होता है। इन तरीकों को अपनाकर आप इस परेशानी से मुक्ति पा सकते हैं
1 मेमोरी स्पेस बढ़ाने के लिए कैश डाटा डिलीट करें
कैश मेमोरी को सीपीयू मेमोरी भी कहते हैं। जब भी आप स्मार्टफोन का यूज करते हैं तब फोन की कैश मेमोरी में अनवांटेड डाटा इंस्टॉल हो जाता है। आपका फोन कैश डाटा को ब्राउजर, एप्लीकेशन और गेम के साथ और भी बहुत जगहों से उठाता है, इसलिए यदि कैश डाटा को कम कर दिया जाएं तो बहुत सा मेमोरी स्पेस उपलब्ध हो जाएगा। कैश डाटा को डिलीट करने के लिए सेंटिंग पर जाएं और स्टोरेज से कैश डाटा को डिलीट कर दें।
2 एप्लीकेशन को मेमोरी कार्ड में मूव और इंस्टॉल करें
फोन में ज्यादा एप्लीकेशन होने पर कुछ एप्लीकेशन्स को मेमोरी कार्ड में मूव कर सकते हैं। इतना ही नहीं, यदि आपके फोन की इंटरनल मेमोरी कम है तो गेम व एप्लीकेशन को सीधे मेमोरी कार्ड में ही इंस्टॉल किया जा सकता है। मेमोरी कार्ड में मूव करने का विकल्प आपको फोन की सेटिंग में जाकर एप्लीकेशन मैनेजर में दिखाई दे जाएगा।
3 स्टोरेज के लिए मेमोरी कार्ड का प्रयोग करें
वैसे तो शुरू से ही आपको फोटो और वीडियो स्टोर करने के लिए मेमोरी कार्ड का इस्तेमाल करना चाहिए, पर अगर फोन के इंटरनल मेमोरी में फोटोज और वीडियोज फाइल्स हैं, तो आप उन्हें मेमोरी कार्ड में मूव कर सकते हैं। इतना ही नहीं, आप ऑडियो फाइल्स को भी मेमोरी कार्ड में रखेंगें तो ज्यादा अच्छा होगा। कैमरा सेंटिंग में फोटो और वीडियो को मेमोरी कार्ड में 4 4 स्टोर करने का विकल्प उपलब्ध होता है।
4 मेमोरी बचाने के लिए क्लाउड स्टोरेज का प्रयोग करें
क्लाउड स्टोरेज का विकल्प आपको किसी भी स्मार्टफोन में मिल जाएगा। आप जिन फाइल और फोल्डर का कम उपयोग करते हैं, फोन की मेमोरी को बचाने के लिए उन्हें क्लाउड पर रख सकते हैं। क्लाउड स्टोरेज एप्लीकेशन में गूगल ड्राइव, वन ड्राइव और ड्राप्स बॉक्स इत्यादि शामिल हैं।
5 इंटरनल मेमोरी बढ़ाने के लिए फैक्ट्री डाटा रिसेट का उपयोग करें
आपके स्मार्टफोन में फैक्ट्री रिसेट का ऑप्शन होता है। फोन की इंटरनल मेमोरी को बढ़ाने का यह आखिरी रास्ता होता है, लेकिन यह याद रखना जरूरी है कि फैक्ट्री डाटा रिसेट के ऑप्शन पर जाने से पहले फोन के महत्वपूर्ण डाटा का बैकअप ले लें