दिल्ली में नया नाटक, केजरीवाल के साथ आये 4 सीएम

1
340

कुमारस्वामी समेत चार CM का केजरीवाल को मिला साथ, मोदी के हाथों में लोकतंत्र सुरक्षित नहीं: AAP

दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के घर पर धरने पर बैठे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल रविवार को दिल्ली के लोगों के साथ प्रधानमंत्री आवास तक मार्च निकालेंगे। उन्होंने कहा है कि वो पीएम मोदी के सामने अपनी मांगें रखेंगे।

नई दिल्ली: विपक्षी दलों के मिल रहे साथ से आम आदमी पार्टी (आप) उत्साहित है। सुबह सवा छह बजे अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि जो प्रधानमंत्री किसी राज्य में अफ़सरों की हड़ताल करवा के वहां का काम काज ठप करता है, क्या ऐसे प्रधानमंत्री के हाथों में देश का लोकतंत्र सुरक्षित है?
इस बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज रविवार को होने वाली नीति आयोग की बैठक में हिस्सा लेने के लिए एक दिन पहले दिल्ली पहुंच गईं। दिल्ली पहुंचने के साथ ही ममता एलजी हाउस पर धरने पर बैठे अरविंद केजरीवाल से मिलने के लिए उपराज्यपाल अनिल बैजल से समय मांगा, लेकिन उन्होंने मना कर दिया। ममता तीन और राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ अरविंद केजरीवाल से मिलना चाहती थीं। ममता के साथ केरल के मुख्यमंत्री विजयन, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू और कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच.डी कुमारस्वामी मौजदू थे।
 
ममता ने केजरीवाल के घर पहुंचकर उनकी पत्नी से मुलाकात की। केजरीवाल की पत्नी से मिलने के बाद ममता बनर्जी ने पत्रकारों से कहा कि दिल्ली की जो समस्या है वो किसी भी राज्य के साथ हो सकती है। हम यहां दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के समर्थन के लिए आए हैं। हमारी मांग है कि पीएम मोदी इस मामले में दखल दें और इसका हल निकालने के लिए जरूरी कदम उठाएं। 

1 COMMENT

  1. क्या ममता के हाथों में प.बंगाल सुरक्षित है।जहाँ हिन्दुओं के साथ पक्षपात किया जाता है।मुस्लिमों के त्योहार के लिए हिन्दुओं का त्योहार मनाने पर प्रतिबंध लगाया जाता है।तब ममता का लोकतंत्र कहाँ जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here