राष्ट्रपति के हाथों कल दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा शताब्दी समारोह का उद्घाटन

0
504

700 से अधिक हिन्दी प्रचारक उद्घाटन समारोह में भाग लेंगे। समारोह के दौरान “पुस्तक का नाम “दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा का इतिहास: 1918-2018” नामक किताब की पहली प्रति राष्ट्रपति कोविन्द को भेंट की जाएगी।

नई दिल्ली: राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द 22 सितम्बर शनिवार को दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा के शताब्दी समारोह का उद्घाटन करेंगे। महामहिम राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के विज्ञान भवन में समारोह का उद्घाटन करेंगे। यह शताब्दी समारोह विज्ञान भवन में हो रहा है।

दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा में जन संपर्क अधिकारी (शतमानोत्सव) ईश्वर करूण ने नई दिल्ली में khabar-india.com news website को दी। समारोह की तैयारी पर नजर रखने के लिए वह चेन्नई से दिल्ली बुधवार को पहुंचे।

करुण ने एक मुलाकात में बताया कि 700 से अधिक हिन्दी प्रचारक, कार्यकर्ता और हिन्दी विद्यार्थी इस उद्घाटन समारोह में भाग लेंगे। समारोह के दौरान “पुस्तक का नाम “दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा का इतिहास: 1918-2018” नामक किताब की पहली प्रति राष्ट्रपति कोविन्द को भेंट की जाएगी।

सनद रहे कि दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा देश की एक प्रमुख हिन्दी सेवी संस्था है जो दक्षिणी राज्यों- केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में वर्ष 1918 से निरंतर हिन्दी के प्रचार-प्रसार का काम कर रही है। दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा, मद्रास का उद्घाटन महात्मा गाँधी ने 1918 में किया था और देश के अनेक राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री इस संस्था से जुड़े रहे।

फोटो परिचय: Ishwar Karun जी इस news group के मेंबर हैं और वे दक्षिण भारत की खबरें देते रहते हैं। कल रात मैंने दिल्ली में अपने पिता स्वर्गीय राय प्रभाकरजी की लिखी पुस्तक: “राजकुमार शुक्ल” उन्हें भेंट की। इस पुस्तक का प्रकाशन नेशनल बुक ट्रस्ट ने किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here