आखिर क्यों नहीं सो पा रहे हैं अंग्रेज खिलाड़ी

0
198

सेंट पीटर्सबर्ग के उत्तर पूर्व में स्थित रेपिनो में भी इन दिनों कुछ ऐसा ही चल रहा है और यहीं ब्रिटेन की टीम ने अपना बेस बनाया है। अब हालत ये है कि उनके खिलाड़ी पूरी नींद नहीं ले पा रहे हैं।

उदयचंद्र सिंह/ टीवी पत्रकार

जरा सोचिये, आप किसी नयी जगह जायें और वहां जाने के बाद मालूम चले कि यहां सूरज डूबता हीं नही है तो आपकी रात कैसे कटेगी । वर्ल्ड कप खेलने पहुंचे ब्रिटेन के खिलाडियों को इसी तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ रहाहै ।

दरअसल, गैरेथ साउथगेट की टीम ने सेंट पीटर्सबर्ग के उत्तर पूर्व में स्थित रेपिनो को अपना बेस बनाया है.जहा पूरी रात नहीं होती । रात साढ़े नौ बजे भी यहां सूरज की रोशनी चमकती है । हैरान मत होईये, दुनिया में कई ऐसी जगह है जहां साल के कुछ दिनों में सूरज की रोशनी 24 घंटे चमकती है।

सेंट पीटर्सबर्ग के उत्तर पूर्व में स्थित रेपिनो में भी इन दिनों कुछ ऐसा ही चल रहा है और यहीं ब्रिटेन की टीम ने अपना बेस बनाया है। अब हालत ये है कि उनके खिलाड़ी पूरी नींद नहीं ले पा रहे हैं। खिलाड़ियों की इस मुश्किल को देखते हुए कोच गैरेथ साउथगेट ने निर्देश पर पूरे होटल में ब्लैकआउट ब्लाइंड लगाये गये हैं । यानि कमरों को अंधेरा किया गया है।

रेपिनों दुनिया के उन स्थलों में शामिल है जहां सूर्य कभी भी पूरी तरह अस्त नहीं होता। यहां सूरज आधी रात को  छिपता है और रात करीब डेढ़ बजे चिड़ियों की चहचहाट शुरु हो जाती है। ये सिलसिला एक-दो दिन नहीं, साल में करीब ढाई महीना यहां सूरज छिपता ही नहीं । स्थानीय लोगों के लिए यह यह समय ‘बेलिये नोची’’ का है यानि सफेज रातें। स्थानीय लोगों के मुताबिक यह स्थिति बॉडी क्लॉक के लिए नुकसानदेह साबित हो सकती है।

.इंग्लैंड के फुटबॉलर डेले अली तो एक दिन तड़के तीन बजे ही यह सोचकर बिस्तर से उठ बैठे की सुबह हो गई है । बाद में घड़ी देखकर उन्होंने दोबारा सोने की कोशिश की, लेकिन खिड़की के बाहर से आ रही रोशनी ने उन्हें सोने नहीं दिया।

टीम के एक और खिलाड़ी डॉन स्टोंस और केल वॉल्कर तो एक दिन आधी रात को ही जिम जा पहुंचे थे।

खिलाड़ियों की इसी तरह की परेशानियों को देखते हुए खिलाड़ियों के कमरों में ब्लैकआउट ब्लाइंड्स फिट किए गये हैं, ताकि वे पूरी नींद ले सकें।

अधकारिक रुप से यहां सूरज तड़के 3,30 पर उगता है और रात 10.20 बजे अस्त होता है। लेकिन सच्चाई यह है कि सूरज की रोशनी यहां कभी भी पूरी तरह मद्धिम नहीं पड़ती।

तस्वीर 1. – इसी होटल में ठहरी है ब्रिटेन की टीम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here